With You; Without You book review

प्रभात रंजन द्वारा रचित उपन्यास, विद यू; विदाउट यू मैंने हाल में ही पढ़ी है। उनकी कहानी काफी अच्छी एवं इंसानी जज्बातों को प्रगट करने वाली है इसमें कोई दो राय नहीं हो सकती। शुरू से लेके अंत तक मुझे ये पता ही नहीं चला की मैंने कितनी जल्दी इस उपन्यास को पढ़ डाला। आप अगर खुद इस पुस्तक को पढ़ेंगे तब आपको पता चलेगा मैं ऐसा क्यों कह रहा हूँ। इस कहानी में कुछ तो खास है जो पाठकों को बस लुभाए एवं उलझाए रखती है और लेखक इस काम में बहुत सफल हुए हैं। हमें तो बस वही दीखता और पढ़ने को मिलता है जो लेखक पन्नों के पीछे से पढ़ाते और दिखाते हैं Continue reading “With You; Without You book review”

Advertisements